बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में – Covid-19 symptoms in kids

बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में
Photo by Ketut Subiyanto

नमस्कार पाठको जैसा कि सभी जानते है किसी भी विषय की जानकारी हमें सही निर्णय लेने में मददगार होती है इसीलिए हमें महत्वपूर्ण विषयो पर जानकारीशुदा रहना चाहिए | आज के इस आलेख से जानिये बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में (covid-19 symptoms in kids)

2020 में पहली लहर के बाद इस वर्ष कोरोना कि दूसरी लहर का प्रकोप जारी है और विभिन्न माध्यमो से यह भी जानकारी प्राप्त हो रही है कि कोरोना कि तीसरी लहर भी आ सकती है, तीसरी लहर कब आएगी, कितनी असरदार रहेगी, कौन सा तबका सबसे ज्यादा प्रभावित रहेगा ये तो सारी भविष्य के गर्भ की बाते है परन्तु एक बात जो हम सभी को परेशान कर रही है वो है कि कुछ स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि इस तीसरी लहर से बच्चे ज्यादा प्रभावित होंगे, भगवान न करे कि ऐसी परिस्थिति आये किन्तु सतर्कता में ही समझदारी है इसी लिए आज इस आलेख के माध्यम से आप बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में जान सकते है

बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में

बच्चो में कोरोना के लक्षण पहचानना बड़ा ही मुश्किल काम है क्योंकि अधिकांशतः बच्चे सामान्य सर्दी जुकाम से पीड़ित होते है ऐसे में सामान्य सर्दी जुकाम एवं कोरोना के लक्षणों में अंतर करना बड़ा ही मुश्किल काम है , यदि आप किसी भी प्रकार से भ्रम कि स्थिति में हो तो ऐसी परिस्थिति में डॉक्टर से सलाह लें | बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में समझाने हेतु हमने कुछ सामान्य और कुछ गंभीर लक्षणों को नीचे उल्लेखित किया है, जिन्हें आप अपनी जानकारी हेतु पढ़ सकते है |

  • बुखार या ठण्ड लगना
  • खांसी
  • बहती या जाम नाक
  • गले में खराश
  • बदन दर्द और थकान
  • मांसपेशीयो में दर्द
  • सिरदर्द
  • उलटी या मितली आना
  • दस्त एवं पेट दर्द
  • स्वाद या सूंघने कि क्षमता कम होना

बच्चो में कोरोना के ये सामान्य लक्षण है जो अभी तक संक्रमित बच्चो में देखे गए है, जरुरी नहीं कि ये सभी लक्षण संक्रमित बच्चे में दिखाई दे किन्तु इनमे से एक या एक से अधिक लक्षण बच्चो में दिखाई देने पर डॉक्टर से सलाह लेकर जांच एवं उपचार करवाना चाहिए |

बच्चो में कोरोना के गंभीर लक्षण

  • सांस लेने में कठिनाई
  • सीने में दर्द
  • लगातार खांसी
  • ऑक्सीजन का स्तर गिरना
  • 100 डिग्री से ज्यादा बुखार लगातार बने रहना

बच्चो में कोरोना के गंभीर लक्षण दिखने पर डॉक्टर से सलाह लेकर तुरंत अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता होती है इसमें जरा भी लापरवाही ना करें |

क्या बच्चो को बिना कोई लक्षण दिखाई दिए कोरोना संक्रमण हो सकता है?

बिलकुल हो सकता है | ये जरुरी नहीं कि बच्चे कोरोना से संक्रमित हो और उनमे कोई लक्षण दिखाई दे , जिस प्रकार से वयस्कों में लक्षणरहित कोरोना संक्रमण देखा गया वैसे ही बच्चो में भी लक्षणरहित कोरोना संक्रमण हो सकता है | डॉ. वी. के. पॉल जो कि नीति आयोग के सदस्य भी है उनके अनुसार बच्चो में संक्रमण का खतरा है लेकिन बच्चो के गंभीर रूप से बीमार होने के मामले कम ही है , कोरोना से संक्रमित बच्चो में से सिर्फ 2 से 3 प्रतिशत को ही अस्पताल में भर्ती करने की जरुरत हो सकती है |

कोरोना (covid-19) से बच्चो को कैसे बचायें

कोरोना से बचाव के लिए वयस्कों द्वारा जो उपाय किये जाते है, उन्ही सब तरीको को अपनाकर हम हमारे बच्चों को कोरोना के संक्रमण से बचा सकते है | प्रमुख उपाय है –

  • हाथो को समय समय पर धोना– निश्चित समय अन्तराल पर अपने हाथो को साबुन व पानी से धोना या फिर अल्कोहल बेस्ड हैण्ड सेनेटैजर से साफ़ करना
  • अति आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलना – केवल जरुरी कामो के लिए ही घर से बाहर निकलना
  • मास्क पहनना – 2 वर्ष या उससे अधिक उम्र के बच्चो को अच्छी गुणवत्ता का मास्क पहनाये
  • सामाजिक दुरी के नियम का पालन – भीड़ भरी जगहों पर जाने से बचे और बाहरी लोगों से कम से कम 2 मीटर की दूरी बनाये रखे

क्या बच्चो के लिए कोरोना वैक्सीन उपलब्ध है?

कई देशो में विभिन्न आयु वर्ग के बच्चो के लिए वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल चल रहे है है, हमारे देश में भी ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया ने 11 मई को भारत बायोटेक को 2 से 18 वर्ष तक के बच्चो पर कोवेक्सिन के फेज 2 और 3 के ट्रायल कि मंजूरी दी थी, जिसके बाद भारत बायोटेक ने बच्चो के तीन समूह 2 से 5 वर्ष , 6 से 12 वर्ष और 12 से 18 वर्ष बनाकर बुधवार से देश में ट्रायल शुरू कर दिए है | ट्रायल के नतीजे आशा के अनुरूप आने पर जल्द ही छोटे बच्चो में भी वेक्सिनेशन शुरू किया जा सकेगा |

तो पाठको उम्मीद है इस आलेख के माध्यम से बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में जानकर आप के मन कई शंकाए दूर हुई होगी, इस आलेख को शेयर करें ताकि आपके परिचितों को भी बच्चो में कोरोना के लक्षण हिंदी में जानने का मौका मिले | धन्यवाद्

Add a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *